Farmer Protest : किसानों के Delhi मार्च से पहले पंचकुला में धारा 144, हरियाणा के 7 जिलों में मोबाइल इंटरनेट बंद |

Farmer Protest: किसानों-के-Delhi-मार्च-से-पहले-पंचकुला-में-धारा-144-हरियाणा-के-7-जिलों-में-मोबाइल-इंटरनेट-बंद

Farmer Protest : संयुक्त किसान मोर्चा (गैर-राजनीतिक) और किसान मजदूर मोर्चा ने कई मांगों को स्वीकार करने के लिए केंद्र पर दबाव बनाने के लिए 'दिल्ली चलो' मार्च की घोषणा की थी।

Farmer Protest : संयुक्त किसान मोर्चा (गैर-राजनीतिक) और किसान मजदूर मोर्चा ने 13 फरवरी को एक विशाल ‘Delhi Chalo‘ मार्च की घोषणा की है, जिसमें 200 से अधिक किसान संघ शामिल होंगे। इसका उद्देश्य फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की गारंटी वाला कानून बनाने सहित विभिन्न मांगों को पूरा करने के लिए केंद्र सरकार पर दबाव बढ़ाना है। इस लामबंदी ने महत्वपूर्ण प्रशासनिक और सुरक्षा उपायों को जन्म दिया है, जिसमें Panchkula में धारा 144 लागू करना और Haryana के कई जिलों में मोबाइल इंटरनेट सेवाओं और थोक एसएमएस को निलंबित करना शामिल है।

किसानों ने एक बार फिर अपनी मांगों को लेकर दिल्ली की ओर कूच करने की घोषणा की है। इस पर हरियाणा की खट्टर सरकार ने प्रदेश के सात जिलों में इंटरनेट सेवाओं पर पाबंदी लगा दी है, जबकि पंचकूला में धारा 144 लागू कर दी गई है। पंचकूला डीसीपी सुमेर सिंह प्रताप के अनुसार, पैदल या ट्रैक्टर ट्रॉली और अन्य वाहनों के साथ जुलूस, प्रदर्शन, मार्च निकालने और किसी भी तरह की लाठी, रॉड या हथियार ले जाने पर पाबंदी लगाई गई है। किसान संगठनों के 13 फरवरी को दिल्ली कूच के ऐलान के बाद, पंजाब-हरियाणा सीमा क्षेत्रों पर सुरक्षा बढ़ाई गई है ताकि राष्ट्रीय राजधानी की ओर जाने से रोका जा सके।

दिल्ली पुलिस ने कहा, ‘जानकारी मिली है कि कुछ किसान संगठनों ने एमएसपी पर कानून और अन्य मांगों को लेकर अपने समर्थकों से 13 फरवरी को दिल्ली में इकट्ठा होने/मार्च करने का आह्वान किया है। उनकी मांगें पूरी होने तक दिल्ली की सीमा पर बैठने की संभावना है। किसी भी अप्रिय घटना से बचने और कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए, क्षेत्र में जीवन और संपत्ति को बचाने के लिए धारा 144 आपराधिक प्रक्रिया संहिता, 1973 का एहतियाती आदेश जारी करना आवश्यक है।

उधर, किसानों को Delhi  से रोकने के लिए हरियाणा सरकार ने पंजाब से आने वाले सभी बॉर्डर सील कर दिए हैं। 12 जिलों में धारा 144 लागू कर सात जिलों में इंटरनेट सेवाओं को भी बंद करने का फैसला लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *